Sufinama

सूफ़ी संगीत

शायरों,कलाकारों और लेखकों के वीडियो

This video is playing from YouTube

वीडियो का सेक्शन
सूफ़ीनामा स्टूडियो

अमीर ख़ुसरौ

वो चले झटक के दामन मिरे दस्त-ए-ना-तवाँ से

वो चले झटक के दामन मिरे दस्त-ए-ना-तवाँ से बेदम शाह वारसी

सुमन मिश्रा

सुमन मिश्रा

वीडियो का सेक्शन
सूफ़ी ग़ज़ल

ज़हीन शाह ताजी

ज़हीन शाह ताजी

ज़हीन शाह ताजी

ज़हीन शाह ताजी

ज़हीन शाह ताजी

ज़हीन शाह ताजी

वीडियो का सेक्शन
संत वानी

कबीर

कबीर

मीराबाई

कबीर

मीराबाई

मीराबाई

कबीर

मीराबाई

कबीर

वीडियो का सेक्शन
काफ़ियाँ

बुल्ले शाह

शाह हुसैन

शाह हुसैन

बुल्ले शाह

ख़्वाजा ग़ुलाम फ़रीद

बुल्ले शाह

शाह नियाज़ अहमद बरेलवी

शाह हुसैन

बुल्ले शाह

ख़्वाजा ग़ुलाम फ़रीद

बुल्ले शाह

बुल्ले शाह

वारिस शाह

मियां मोहम्मद बख़्श

शाह हुसैन

बुल्ले शाह

शाह हुसैन

ख़्वाजा ग़ुलाम फ़रीद

मियां मोहम्मद बख़्श

मियां मोहम्मद बख़्श

ख़्वाजा ग़ुलाम फ़रीद

मियां मोहम्मद बख़्श

शाह हुसैन

मियां मोहम्मद बख़्श

वारिस शाह

शाह हुसैन

ख़्वाजा ग़ुलाम फ़रीद

शाह हुसैन

ख़्वाजा ग़ुलाम फ़रीद

मियां मोहम्मद बख़्श

शाह हुसैन

वारिस शाह

बुल्ले शाह

बुल्ले शाह

शाह हुसैन

बुल्ले शाह

बुल्ले शाह

शाह हुसैन

शाह हुसैन

मियां मोहम्मद बख़्श

वीडियो का सेक्शन
हिन्दुस्तानी सूफ़ी कलाम

बेदम शाह वारसी

शाह नियाज़ अहमद बरेलवी

शाह नियाज़ अहमद बरेलवी

शाह नियाज़ अहमद बरेलवी

शाह नियाज़ अहमद बरेलवी

शाह तुराब अली क़लंदर

बेदम शाह वारसी

बेदम शाह वारसी

बेदम शाह वारसी

शाह नियाज़ अहमद बरेलवी

वीडियो का सेक्शन
बाउल गान

ललोन शाह

ललोन शाह

ललोन शाह

ललोन शाह

गगन हरकारा

वीडियो का सेक्शन
क़व्वाली

अमीर ख़ुसरौ

अमीर ख़ुसरौ

अमीर ख़ुसरौ

अमीर ख़ुसरौ

हाफ़िज़

हाफ़िज़

अमीर ख़ुसरौ

अमीर ख़ुसरौ

अमीर ख़ुसरौ

अमीर ख़ुसरौ

अमीर ख़ुसरौ

अमीर ख़ुसरौ

अमीर ख़ुसरौ

रूमी

रूमी

अमीर ख़ुसरौ

अमीर ख़ुसरौ

रूमी

हाफ़िज़

अमीर ख़ुसरौ

अमीर ख़ुसरौ

रूमी

अमीर ख़ुसरौ

अमीर ख़ुसरौ

हाफ़िज़

हाफ़िज़

अमीर ख़ुसरौ

अमीर ख़ुसरौ

सूफ़ीनामा स्टूडियोसमस्त

सूफ़ीनामा स्टूडियो में अपनी पसंदीदा वीडियो तलाश करें

सूफ़ी ग़ज़लसमस्त

सूफ़ीनामा पर अपनी सूफ़ियाना ग़ज़ल तलाश करें

संत वानीसमस्त

संत वानी

काफ़ियाँसमस्त

काफ़ियाँ

हिन्दुस्तानी सूफ़ी कलामसमस्त

सूफ़ी नामा पर हिंदुस्तानी सूफ़ी कलाम का बड़ा सरमाया

बाउल गानसमस्त

बाउल गान का बड़ा सरमाया सूफ़ीनामा पर देखिए

क़व्वालीसमस्त

क़व्वाली मौसीक़ी की एक किस्म है, जब किसी क़ौल (कथन) को बार-बार दुहराया जाये तो उसे क़व्वाली कहते हैं। क़व्वाली को सिलसिला-ए- चिश्तिया में ख़ास एहमीयत दी जाती है। इस में क़व्वाल किसी कलाम या ग़ज़ल को तरन्नुम के साथ पेश करते हैं जिसको सुनते ही हाज़रीन-ए-महफ़िल कैफ़-ओ-मस्ती का इज़हार करते हैं, रिवायात के मुताबिक़ क़व्वाली की शौहरत हज़रत अमीर ख़ुसरो से हुई। क़दीम रिवायती कलाम ज़्यादा-तर फ़ारसी और उर्दू में मिलता है, ताहम आजकल पंजाबी, सरायकी, पश्तो, सिंधी, बलूची और दीगर ज़बानों में भी क़व्वाली बड़ी प्रसिद्द है।