Sufinama

आज का विचार

"If the wine drinker

has a deep gentleness in him,

"If the wine drinker

has a deep gentleness in him,

प्रस्तुति

सूफ़ी

मरदान सफ़ी

महव-ए-दीदार अपना सारा तन हुआ

हर बुन-ए-मा'शूक़ से रौज़न हुआ

संत

सूरदास

बालम बिलम बिदेश रहो री

भूषणपितु पितु सेनापति पितु ता अरि अंग दहो री

काव्य संचयन

सूफ़ी शब्दावली

iKHlaas

शब्दार्थ

Sincerity

चूँ बख़्त नीस्त कि बारम देही ब-ख़ल्वत-ए-ख़ास

बर आस्तान-ए-इरादत निहम सर-ए-इख़्लास

पसंदीदा विडियो

ई-पुस्तकें

शुरुआती दौर से लेकर तात्कालिक सूफ़ी साहित्य और संत-वाणी का अनूठा संग्रह

The Four Darwesh

1895

तारीख़-ए-सिंध

सय्यद अबू-ज़फ़र नदवी

1970

Khwaja-e-Banda Nawaz Ka Tasawwuf Aur Sulook

1979

Santon Ki Bani

1977

Majmua-e-Qawwali

हम से जुड़िये

न्यूज़लेटर

* सूफ़ीनामा आपके ई-मेल का प्रयोग नियमित अपडेट के अलावा किसी और उद्देश्य के लिए नहीं करेगा