Sufinama
Hashim Shah's Photo'

हाशिम शाह

1753 - 1823

हाशिम शाह केवल सूफी कवि के रूप में पहचाने जाते हैं। इनके साथ फकीरी या सिद्दई का संबंध नहीं पाया जाता है। ये जाति के बट्ई थे। हाशिम का संबंध रनजीतसिंह के साथ भी जोड़ा जाता है। इनके रचित ग्रंथों में किस्सा शीरी-फरहाद, किस्सा सोहनी-महिवाल, किस्सा सस्सी-पुन्नू, ज्ञान-प्रकाश और दोहरे प्रसिद्ध है।