Sufinama
Amir Khusrau's Photo'

अमीर ख़ुसरौ

1253 - 1325 | दिल्ली, इंडिया

पूरा नाम अबुल हसन यमीन-उद्दीन अमीर ख़ुसरो। उर्दू- हिन्दवी के पहले शाइर| प्रसिद्ध चिश्ती संत हज़रत निजामुद्दीन औलिया के शागिर्द । फ़ारसी, संस्कृत, उर्दू, हिन्दवी और कई भारतीय प्रांतीय भाषाओँ पर भी अधिकार था । संगीत के मर्मज्ञ और कई रागों तथा साज़ों जैसे तबला और सितार का अविष्कार किया । क़व्वाली इनके समय में ही आम हुई और सूफ़ी महफ़िलों में इसका चलन शुरू हुआ । कई हिन्दवी गीत लिखे जो आज भी जन-मानस में प्रचलित हैं ।

पूरा नाम अबुल हसन यमीन-उद्दीन अमीर ख़ुसरो। उर्दू- हिन्दवी के पहले शाइर| प्रसिद्ध चिश्ती संत हज़रत निजामुद्दीन औलिया के शागिर्द । फ़ारसी, संस्कृत, उर्दू, हिन्दवी और कई भारतीय प्रांतीय भाषाओँ पर भी अधिकार था । संगीत के मर्मज्ञ और कई रागों तथा साज़ों जैसे तबला और सितार का अविष्कार किया । क़व्वाली इनके समय में ही आम हुई और सूफ़ी महफ़िलों में इसका चलन शुरू हुआ । कई हिन्दवी गीत लिखे जो आज भी जन-मानस में प्रचलित हैं ।

अमीर ख़ुसरौ की पुस्तकें

14

Afzal-ul-Fawayed

1886

Ameer Khusrau Ka Hindavi Kalam

Ma Nuskha-e-Barlin Zakhira-e-Sprenger

2008

Chahar Darvesh Farsi

Deebacha-e-Deewan-e-Izzat-ul-Kamal

Deewan-e-Ameer Khusrau Dehlavi

Mukammal-o-Mustanad Majmua-e-Dawaween

1967

Hasht Bahisht

1873

Nazr-e-Khusrau

1983

Nazr-e-Khusrau

Paheliyan Aur Keh Mukarniyann

1989

Nazr-e-Khusro

1999

लूअाली उमाँ

1918

अमीर ख़ुसरौ पर पुस्तकें

14

Ameer Khusrau: Ahwal-o-Aasar

1975

Amir Khusrau

Memorial Volume

1975

Amir Khusrau As A Historian

1992

Amir Khusrau Aur Hamara Mushtaraka Culture

1983

India as Seen by Amir Khusrau

1981

Mausiqi Hazrat Ameer Khusrau

1978

अमीर ख़ुसरो

1985

हयात-ए-ख़ुसरो

1903

हयात-ए-ख़ुसरो

1909

हिंदुस्तान अमीर ख़ुसरो की नज़र में

1966